Facts in Hindi : हिंदी में कुछ रोचक तथ्य।

इस आर्टिकल मे हम आपके लिए विभिन्न प्रकार के कुछ ऐसे फैक्ट लेकर आये हैं, जो काफी मज़ेदार हैं और इस तरह कि जानकारियाँ बहुत से लोगों मालुम नहीं होती है इसलिए हम आपसे उम्मीद करते है कि आपको पसंद आएंगे।

कुछ रोचक तथ्य। Facts in Hindi.

1) स्मार्टफोन ना इस्तेमाल करने से डर लगना (Fear of Smartphone).

आपने ये तो ज़रूर सुना होगा कि ऊँचाई से लोगों को डर लगता है या फिर पानी से डर लगता है, जो कि एक तरह कि साइकोलॉजिकल बीमारी होती है। लेकिन क्या आपको पता है कि बहुत से लोगों को मोबाइल फ़ोन के ना इस्तेमाल करने या फिर मोबाइल फ़ोन ना इस्तेमाल करने के ख्याल से डर लगता है। जी हाँ आपने ठीक पढ़ा है, जहां आजकल लोग मोबाइल से नज़रे नहीं हटाते हैं यही वजह है कि ये बीमारी अब धीरे धीरे लोगों मे बढ़ रही है, क्यूंकि लोग बिना मोबाइल के नहीं रह पारहे हैं। इस तरह कि बीमारी को Nomophobia कहते हैं।

2) समुन्द्र जो आपस मे जुड़े होने के बावजूद मिलते नहीं है। Two oceans meet but don’t mix.

Facts in Hindi

Facts in Hindi : हिंदी में कुछ रोचक तथ्य।

पृथ्वी पर जितने भी समुन्द्र है सभी मिले हुए हैं लेकिन इसके बावजूद पृथ्वी के हर कोने मे अलग अलग समुन्द्र पाए जाते है, लेकिन इनके नाम इंसानों द्वारा दिए गए हैं जैसे प्रशांत महासागर, हिन्द महासागर इत्यादि।

लेकिन ज़ब आप आलसका कि खाड़ी मे जाएंगे तो वहाँ एक अलग ही नज़ारा पाया जाता है। वहाँ पर अटलांटिक और प्रशांत महासागर जुड़े हुए हैं लेकिन इसके बावजूद इनके पानी नहीं मिलते हैं। ऐसा इसलिए होता है कि एक तरफ से ग्लेशियर से फ्रेश पानी आता है और दूसरी तरफ समुन्द्र का पानी जिसमे नमक काफी ज़्यादातर मात्रा मे पायी जाती है इसके साथ ही गर्म भी होता है। यही वजह है कि इन दोनों महासागर के पानी एक दूसरे से नहीं मिलते हैं।

3) क्या रुपया डॉलर को पीछे छोड़ देगा?

अक्सर आपने ये सुना होगा कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जितने भी व्यपार होते हैं वो सभी डॉलर मे होते हैं। उदाहरण के तौर पर अगर भारत और चीन मे कोई व्यापार होता है तो पहले भारतीय रूपये को डॉलर बदला जाता है फिर उस डॉलर से चीन से माल खरीदा जाता है। और ज़ब वही डॉलर चीन मे पहुँचता है तो चीन को अपने मुद्रा मे बदलनी पड़ती है।

ऐसे मे दोनों देशों को करेंसी एक्सचेंज चार्ज देने पड़ते हैं। जिससे अमेरिका को काफी फायदा होता है। इस एक्सचेंज चार्ज से बचने के लिए भारत ने कुछ ही महीने पहले एक ठोस कदम लेकर आया है जिसमे दूसरे देशों के साथ व्यापार मे अब डॉलर के बजाय रुपया का इस्तेमाल होगा। इसको लेकर भारत के साथ 36 ऐसे देश है जो भारत के साथ रुपया मे व्यापार करेंगे। जल्द ही भारत रुपया मे व्यापार करेगा। अगर ये सफल हुआ तो आने वाले सिर्फ 30 सालों मे भारतीय रुपया, डॉलर को पीछे छोड़ देगी। आपको हम बता दे लगभग 70 साल से डॉलर दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मुद्रा बनी हुई है।

4) भारत मे सबसे ज़्यादा नौकरी कौन देता है? Biggest Job provider in India.

भारत देश मे लगभग 140 करोड़ कि आबादी है इसलिए यहाँ पर दुनिया के कई देश अपनी कम्पनी खोलते है ताकि आसानी से उन्हें काम करने वाले मिल जाए। यहाँ पर एक से बढ़ कर एक कम्पनियाँ हैं जो भारी संख्या मे जॉब देती है। लेकिन सबसे ज़्यादातर नौकरियां कौन देता है?

Facts in Hindi

Facts in Hindi : हिंदी में कुछ रोचक तथ्य।

  • सबसे ज़्यादातर नौकरियां भारतीय आर्मी मे हैं जहाँ पर 14 लाख से ज़्यादा लोग काम करते हैं।
  • दूसरे स्थान पर भारतीय रेल का नाम आता है जो भारत मे लगभग 12 लाख नौकरियां प्रदान करती है।
  • अगर हम प्राइवेट कम्पनी कि बात करें तो टाटा कंपनी सबसे जॉब देती है, जो 9 लाख से ज़्याद जॉब प्रदान करती है।
  • इनफ़ोसिस (Infosys ) भारत में 2.5 लाख से ज़्यादा नौकरियां देती है।
  • रिलायंस कम्पनी 2 लाख 36 हज़ार नौकरिया देती है।
  • विप्रो (Wipro) कम्पनी 2 लाख 15 हज़ार नौरिया देती है।
  • ऐसे मे देखा जाए इतनी बड़ी बड़ी कम्पनियाँ भारत मे हैं लेकिन रोज़गार के मामले बहुत कम कम्पनियाँ ही अच्छे से रोज़गार दे पाती है. यही वजह है कि भारत से भारी संख्या मे लोग दूसरे देशों मे काम करने के लिए जाते हैं।

Read More:

Leave a Comment